Tuesday, April 21, 2009

कुछ समझे पप्पू ? या अभी भी किसी मसीहा का इंतज़ार है ?

2 comments:

सुजीत कुमार said...

मैं तो कब का समझ गया लोग कब समझेंगे। हाहाहाहा.......

बिल्कुल सही बात है सर। लेकिन ये ऐड करने वाले फिल्मी कलाकारों में कितने देश में हैं यह भी जरूर देख लीजिए। कुछ नाम तो मैं गिनवा सकता हूं जो देश में नहीं है और चुनाव में भाग नहीं लेंगे। प्रीति जिंटा, शाहरुख खान व शिल्पा शेट्टी आईपीएल मं व्यस्त हैं। अक्षय कुमार देश से बाहर छुट्टियां मना रहे हैं। वैसे भी इन लोगों को रैंप पर पैंट उतारने से फुर्सत मिले तब देश के बारे में सोचे। सच्चे को चुने और अच्छे को चुने का प्रचार करने वाले आमिर खान भी अभी देश से बाहर ही हैं वो भी चुनाव में देश में वापस आएंगे कि नहीं कहा नहीं जा सकता। पीछे महेंद्र सिंह धोनी पद्म भूषण लेने नहीं पहुंचे क्चोंकि वह एक ऐड शूट में व्यस्त थे। मेरा मानना है कि ये सेलेब्स देश का भला नहीं करेंगे। करेगा आम आदमी, उसको जागना होगा।

Mahesh Sinha said...

एक संकल्प ही ले लें तो बड़ी शुरुआत हो सकती है. १००% तो कही नहीं होता
फिल्मकारों से इस देश की जनता का प्रभावित होना कोई नयी बात नहीं इसी लिए तो उनकी चुनावी सभा में अपने आप भीड़ खिची चली आती है .

विचारको की मित्रमंडली